शनिवार, 8 अप्रैल 2017

खूबसूरती


सूखे पेड़ की भी अपनी खूबसूरती होती है। आज दोपहर जैसे ही एक सूखे पेड़ पर निगाह पड़ी तो पाया कि सूखा पेड़ भी कितना सुन्दर हो सकता है। खूबसूरती फ़ूलों की मोहताज नहीं, ये आज समझ आया। ऐसे नए-नए सबक सिखाने के लिए ज़िंन्दगी तेरा शुक्रिया।

-ज्योतिर्विद पं. हेमन्त रिछारिया

कोई टिप्पणी नहीं: