रविवार, 28 जुलाई 2013

परमवीर चक्र विजेता

परमवीर चक्र विजेता
(1947-1999)

 

 (जम्मू काश्मीर में कार्रवाई)

1947-48 J & K Operations


मेजर सोमनाथ शर्मा (मरणोपरांत)
Major Somnath Sharma, 4 kumaon, (Posthumous)

राम राघोबा राने
2nd  Lt. Ram Raghoba rane,crops of engineers

पीरु सिंह (मरणोपरांत)
CHM Piru Singh,6 Rajputana Rifles, (Posthumous)

नायक जदुनाथ सिंह  (मरणोपरांत)
Naik Jadunath Singh, 1 Rajput, (Posthumous)

लांस नायक करम सिंह
Lance Naik Karam Singh, 1 Sikh

1962 indo-china war

(भारत-चीन युद्ध)


मेजर शैतान सिंह  (मरणोपरांत)
Major Shaitan Singh, 13 Kumaon, (Posthumous)

मेजर धनसिंह थापा
Major Dhan Singh Thapa,1/8 Gorkha Rifles

सूबेदार जोगिन्दर सिंह  (मरणोपरांत)
Subedar Joginder Singh,1 Sikh, (Posthumous)

1965 indo-pak war

(भारत-पाक युद्ध)


ए.बी.तारापोरे (मरणोपरांत)
Lt. Col. A.B.Tarapore, 17 poona horse, (Posthumous)

अब्दुल हामिद (मरणोपरांत)
CQMH Abdul Hamid,4 Grenadiers, (Posthumous)

1971 indo-pak war

(भारत-पाक युद्ध)


मेजर होशियार सिंह
Major Hoshiar Singh,3 Grenadiers

अरूण खेत्रपाल  (मरणोपरांत)
2nd Lt. Arun Khetarpal, 17 poona Horse, (Posthuomus)

फ्लाइंग आफीसर निर्मलजीत सिंग सेखों  (मरणोपरांत)
Fg. Off. Nirmal Jit Singh Sekhon, no.18 squadron, (Posthumous)

लांस नायक अल्बर्ट एक्का  (मरणोपरांत)
Lance Naik Albert Ekka,17 Gards, (Posthumous)

1999 Kargil operations
(कारगिल में कार्रवाई)


कैप्टन विक्रम बत्रा  (मरणोपरांत)
captain Vikram Batra,13 JAK Rifles, (Posthumous)

लेफ्टिनेंट मनोज के पांडे  (मरणोपरांत)
Lt. Manoj k. Pandey, 1/11 GR, (Posthumous)

ग्रेनेडियर योगेन्द्र सिंह यादव
Grenadier Yogendra Sing Yadav,18 Grenadiers

राइफलमेन संजय कुमार
Rifleman Sanjay Kumar,13 JAK Rifles

UN Operations


कैप्टन जी.एस.सलारिया  (मरणोपरांत)
Captain G.S. Salaria, 3/1 GR. (Posthumous)

Saichen Operations


नायब सूबेदार बानासिंह
Naib Subedar Bana Singh, 8 JAK,LI

 

 IPFK Operations


मेजर आर.परमेस्वरन  (मरणोपरांत)
Major R. Parameswaran,8 Mahar, (Posthumous)


 *******

निवेदन- उपरोक्त जानकारी हमने विभिन्न समाचार-पत्रों, इलेक्ट्रानिक मीडिया, इस विषय पर प्रसारित कार्यक्रमों व इंटरनेट के माध्यम से प्राप्त की है। इसकी प्रामाणिकता के संदर्भ में हमारा कोई आग्रह नहीं है। यद्यपि इसके स्रोत के संबंध में हमने पूर्ण सावधानी बरती है। अतः सुधि पाठकगण इसे पढ़ते व प्रयोग करते समय अपने स्वविवेक से काम लें।
-संपादक

कोई टिप्पणी नहीं: