मंगलवार, 2 अप्रैल 2013

संजय दत्त को नहीं मिलेगी माफ़ी..!

 यदि पूरे घटनाक्रम को ज्योतिषीय नज़र से देखें तो संजय दत्त इस समय गुरू की महादशा और राहु की अंतर्दशा भोग रहे हैं। जो २४ अप्रैल २०१४ तक रहेगी। संजय दत्त की कुण्डली में गुरू ना सिर्फ द्वादश स्थान अर्थात कारावास के स्थान का स्वामी है बल्कि दण्डाधीश शनि अधिष्ठित राशी का स्वामी भी है। अंतर्दशानाथ राहु गुरू से द्वादश स्थान में स्थित है। जो अपनी भुक्ति में मानहानि व विपत्ति का संकेत दे रहा है। वहीं गोचर में भी राहु के अनिष्ट भाव में भ्रमण होने से उक्त बातें प्रमाणित हो रही है। गोचर में गुरू व्रष राशि में स्थित है अपनी राशि से गुरू का प्रथम भाव में गोचर संजय दत्त के लिए अनिष्टफलकारक है जो राजभय व मानहानि व अपने घर से दूर निवास का संकेत दे रहा है। जन्मकालीन गुरू पर से वर्तमान में शनि-राहु गोचर कर रहे हैं इस गोचर से भी मानहानि-राजभय का संकेत मिल रहा है। इसलिये इस अवधि में उनके कारावास जाने के प्रबल योग हैं। उन्हें अल्प समय के लिए ही सही जेल जाना ही होगा। अप्रैल २०१४ के बाद उनकी सज़ा माफ़ हो सकती है और वे रिहा हो सकते हैं।
 
*(उक्त गणना एक पत्रिका से प्राप्त कुण्डली के आधार पर की गई है जो संजय दत्त की बताई गई है। इसकी प्रमाणिकता के बारे में हम कोई दावा नहीं करते। यह उस कुण्डली का फलादेश है।)

कोई टिप्पणी नहीं: